Category: गणेशजी के भजन

सबसे पहले तुम्हे मनाऊँ गौरी सूत गणराज लिरिक्स

सबसे पहले तुम्हे मनाऊँ,गौरी सूत गणराज,तुम हो देवों के सरताज,दूंद दुँदाला सूँड़ सुन्डाला,मस्तक मोटा कान, तुम हो देवों के सरताज।।…

मैं थाने शिमरू गजानन्द देवा भजन लिरिक्स

मैं थाने शिमरू गजानन्द देवा,वचनो रा पालनहारा जी औ।सरस्वती मात शारदा ने सिंवरूं,हृदय करो नी उजीयाला जी,नीन्द्रा नीवारो भोलानाथ ने।।…

निज मंदरिया में रमता पधारो गणपति भजन लिरिक्स

निज मन्दिरया मे रमता पधारो गणपती,रमता पधारो देवा खेलता पधारो।। (1) ब्रह्मा पधारो देवा विष्णु पधारो,संग मे पधारो सरस्वती। निज…

सभा में राखो मारी लाज भजन लिरिक्स

दोहा- सदा भवानी दायनी,सुनमुख रहत गणेश।पांच देव रक्षा करे,ब्रह्मा विष्णु महेश।। मनाऊ मै प्रथम श्री गणराज,सभा में राखो मारी लाज।।…

गौरी के नंदा गजानंद भजन लिरिक्स

दोहा –“गजानंद आनद करो,और करो संपत में शीश।दुश्मन को सृजन करो,नुत जिमाऊ खीर।।” भजन –म्हाने बुद्ध दीजो गणराज गजानंद,गोरी के…

मनाया मैंने प्रथम श्री गणराज भजन लिरिक्स

मनाया मैंने प्रथम श्री गणराज,प्रथम श्री गणराज।मनाया ओ मैंने प्रथम श्री गणराज,प्रथम श्री गणराज।। माता जो तेरी देवा पार्वती कहिये,पिता…