May 16, 2022

अन्य भजन

Share this... Facebook Twitter ओढ़ चुनड़ में तो गई रे सत्संग में,साँवरियो भिगाई म्हाने गेरा-गेरा रंग में,...
Share this... Facebook Twitter डस गयो कालो नाग,कुँवर रोहीदास ने,छाती भर आवे बेटा,देखु थारी लाश ने,हिवड़ो भर...
Share this... Facebook Twitter मेरे मालिक की दुकान पे सब लोगो का खाता लिरिक्स मेरे मालिक की...
Share this... Facebook Twitter प्रीत गुरा री भली रे रावलिया रे जोगी,अलबेला रे जोगी,मस्ताना रे जोगी प्रीत...
Share this... Facebook Twitter सूरज रा अवतारी ओं शनिशचर भाण रा अवतारी रे, सूरज रा अवतारी ओं…….....
Share this... Facebook Twitter दोहा – कागा किसका धन हरे,कोयल किसको दे,मीठी वाणी बोल के वा,जुग अपना...
कृपया कॉपी न करे नहीं तो आप के खिलाफ कारवाई की जायेगी। धन्यवाद