दीवाना राधे का दीवाना राधे का मुरली वाला श्याम,
गुजरियां नचले रे गुजरिया नचले रे,
गोवर्धन के नाम दीवाना राधे का


राधे राधे जपता है सखियों से कहता है
प्यारी लगे राधा रानी,
रासलीला करता है राधा संग नाचता है
कान्हा करे मनमानी,
ग्वाल बाल तंग हुये ब्रिजवासी दंग हुए ,
मगन हुए घनश्याम,
दीवाना राधे का……


मैया जी हैरान हुई गैयाँ परेशान हुई
कान्हा हुए बेकाबू
सोच रही रुकमनी सौत मेरी कोण बनी
किसने किया ये जादू,
किसकी ये प्रीत में है खोये खोये श्याम मेरे
छोड़ा द्वारकाधाम,
दीवाना राधे का…….


माखन से मुख मोड़ा मठादही खाना छोड़ा
सुधबुध सब बिसराई रे,
ग्वालो की ये टोली छोड़ी कान्हा ने ठिठोली छोड़ी
बरसाने वाली मनभाई रे,
यमुना के तट घट भूले कान्हा नटखट
भूल गए ब्रिज धाम,
दीवाना राधे का…..


राधा संग रास करे ग्वालो को उदास करे
कान्हा की लीला न्यारी रे,
गोपियों को तंग करे मन में उमंग भरे
बड़े ही रंगीले गिरधारी रे,
मथुरा में शोर मचे नन्द किशोर नाचे
बैरागी घनश्याम,
दीवाना राधे का…….


दीवाना राधे का दीवाना राधे का मुरली वाला श्याम,
गुजरियां नचले रे गुजरिया नचले रे,
गोवर्धन के नाम दीवाना राधे का


भजन भंडार