कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं,
हनुमान तुम्हारा क्या कहना,
तेरी शक्ति का क्या कहना,
तेरी भक्ति का क्या कहना,


सीता की खोज करी तुमने,
तुम सात समुन्दर पार गये,
लंका को किया शमशान प्रभु,
बलवान तुम्हारा क्या कहना,
तेरी शक्ति का क्या कहना,
तेरी भक्ति का क्या कहना,


कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं……….


जब लखन लाल को शक्ति लगी,
तुम द्रोणागिरी पर्वत लाये,
लक्ष्मण के बचाये आ कर के,
तब प्राण तुम्हारा क्या कहना,
तेरी शक्ति का क्या कहना,
तेरी भक्ति का क्या कहना,


कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं……..


तुम भक्त शिरोमनी हो जग में,
तुम वीर शिरोमनी हो जग में,
तेरे रोम रोम में बसते हैं,
सिया राम तुम्हारा क्या कहना,
तेरी भक्ति का क्या कहना,
तेरी शक्ति का क्या कहना,


कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं,
हनुमान तुम्हारा क्या कहना,
तेरी शक्ति का क्या कहना,
तेरी भक्ति का क्या कहना,


भजन भंडार